Web hosting Kya hai

Web hosting kya Hai in Hindi? वेबसाइट के लिए होस्टिंग क्यों जरूरी है?

Web Hosting in Hindi

Table of Contents

हेलो दोस्तों आज हम समझने वाले है, Web Hosting kya hai? सामान्य तोर पर समझे तो आपके पास जो Mobile या Computer है, और उसके अंदर जो Storage है वो एक प्रकार की होस्टिंग है, लेकिन जब आप ऑनलाइन कोई कंटेंट शेयर करते है, इंटरनेट पे कोई डाटा शेयर करना चाहते है, तब  आप अपने पर्सनल स्टोरेज को यूज़ नहीं कर सकते क्युकी वो इंटरनेट से कनेक्ट नहीं होता! तब आपको एक हाई स्पीड वेब होस्टिंग की जरुरत होती है ताकि आप आपके कंटेंट या डाटा को इंटरनेट से कनेक्ट कर सके, वेब होस्टिंग का काम होता है आपकी वेबसाइट को एक स्टोरेज प्रोवाइड करना जो 24 घंटे आपके कंटेंट और वेबसाइट को लाइव रख सके! और वर्ल्ड में कही भी बैठा हुआ यूजर आपके कंटेंट को रीड और डाउनलोड कर पाए !

अब हम Web Hosting kya hai? और कैसे काम करती है? ये समझने वाले है, लेकिन उससे पहले कुछ technical term के नाम आने वाले है, उनके बारे में भी जानना जरुरी है, ताकि आपको हर एक topic अच्छे से समझ आ जाये, क्युकी आज आपको वेब होस्टिंग के बारे में पूरी जानकारी देकर ही जाने देंगे!

Domain name 

Domain name आपके बिजनेस का एक address है, इसी नाम से आपकी पहचान होती है, क्युकी हमारा कम्प्यूटर और इंटरनेट IP Address मतलब number को समझता है, लेकिन human के लिए नाम को याद रखना easy होता है! इसीलिए domain यूजर के लिए एक नाम है, और इंटरनेट के लिए एक एड्रेस है! 

Server

Server एक प्रकार का hardware है, जो software की मदद से इंटरनेट से कनेक्ट करता है, जिस प्रकार एक कमरे में रखे सभी computer को LAN (Local Area Network) से कनेक्ट करते है, उसी प्रकार server WAN (Wide Area Network) से पुरे विश्व के कंप्यूटर को connect करता है!

WordPress

WordPress एक प्रकार का फ्री Open source software है जिसकी मदद से आप बिना coding knowledge के ऑनलाइन वेबसाइट बना सकते है!

अगर आप WordPress क्या है? और ये कैसे काम करता है, तो आप हमारा ये ब्लॉग पढ़ सकते है!  

What is Web Hosting in Hindi

डेफिनेशन से समझे तो वेब (internet) होस्टिंग (Storage) हमारी वेबसाइट, मोबाइल एप्लीकेशन, सर्च इंजन को एक स्टोरेज प्रोवाइड करता है जो सुरक्षित तरीके से हमारे कंटेंट (image, Video, Blogs, Product) को Internet पे 24*7 लाइव (Online server पर store) करके रखता है, ताकि हमारी वेबसाइट के यूजर को लाइव इनफार्मेशन मिल पाए!  बिना होस्टिंग के आप अपनी वेबसाइट को लाइव या इंटरनेट पे नहीं दिखा सकते है! 

शायद अब आप समझ गए होंगे की Web Hosting kya hai? अगर आप ये भी जानना चाहते है की वेब होस्टिंग कैसे काम करती है? और कितने प्रकार की होती है? बेस्ट वेब होस्टिंग कैसे चुने? तो आपको इस ब्लॉग को अच्छे से पूरा पढ़ना होगा!

वेब होस्टिंग कैसे काम करती है? (How does web hosting work in Hindi?)

वेब होस्टिंग के काम करने का सिंपल तरीका होता है, जैसा की हम पहले समझ चुके है की वेब होस्टिंग एक इंटरनेट स्टोरेज है! जब भी कोई यूजर वेबसाइट के डोमेन या वेबपेज पर क्लिक करता है, तो वेब होस्टिंग जो की आपके डोमेन से कनेक्ट होती है, और वेब होस्टिंग आपके डोमेन की फाइल को ओपन करता है, और स्टोरेज से ढूंढ कर वो फाइल को सर्च इंजन पर इंटरनेट की हेल्प से यूजर के सामने ओपन कर देता है, और ये प्रोसेस वीथिन सेकंड में हो जाता है! एक अच्छी वेब होस्टिंग की हेल्प से बेस्ट स्पीड के साथ यूजर को आपका डाटा प्रोवाइड कर देता है! ताकि आपका यूजर उस वेब पेज के कंटेंट को रीड कर सके और डाउनलोड कर पाये!

अब आपको वेब होस्टिंग कैसे काम करती है, ये पता चल गया है, तो अब आप वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती है? ये जानने को उत्सुक होंगे, तो चलिए 

वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती हैं? (How many types of web hosting in Hindi)

होस्टिंग अनेक प्रकार की होती है, लेकिन हर एक वेब होस्टिंग का अपना अलग ही महत्व है! क्युकी हर वेबसाइट एक जैसी नहीं होती, कोई ब्लॉग्गिंग वेबसाइट होती है, कोई शॉपिंग वेबसाइट होती है, और कोई सर्विसेज की वेबसाइट होती है, और हर वेबसाइट पे कंटेंट का लोड अलग होता है इसीलिए वेबसाइट की होस्टिंग का सिलेक्शन उस पर आने वाले ट्रैफिक और कंटेंट के लोड पर निर्भर करता है, या यु कहे की ट्रैफिक या कंटेंट के हिसाब से बदलनी पड सकती है,

  • 1. Shared hosting
  • 2. Virtual private server (VPS) hosting
  • 3. Dedicated server hosting
  • 4. Cloud hosting
  • 5. Managed hosting
  • 6. Colocation

Shared web hosting kya hota hai in Hindi?

Shared web hosting को समझने का सिंपल तरीका है, मान लीजिये एक शॉपिंग माल है जिसमे अलग अलग शॉप्स है, और उस मॉल के मालिक ने अलग अलग लोगो को एक एक शॉप का स्पेस दिया है, और उस स्पेस के लिए कुछ रेंट लीया है!

उसी तरह एक होस्टिंग कम्पनी एक सर्वर पर अलग अलग डोमेन (Website) को एक स्पेस और स्टोरेज प्रोवाइड करती है, और उस शेयर्ड होस्टिंग में कम रेंट पे सर्वर स्पेस मिल जाता है, इसे ही शेयर्ड वेब होस्टिंग कहते है!

शेयर्ड वेब होस्टिंग किसे यूज़ करना चाहिए

जब आपकी वेबसाइट नयी है, और आपके वेबसाइट पे ट्रैफिक कम है इसका मतलब आपके वेबसाइट पे लोड भी कम है तो आपको शेयर्ड होस्टिंग ही यूज़ करना चाहिए, क्युकी शेयर्ड होस्टिंग को ऑपरेट करना थोड़ा easy होता है, अगर आपकी वेबसाइट वर्डप्रेस पे है तो आपके लिए ये अच्छा होस्टिंग ऑप्शन है!  

Shared hosting के फायदे
  1. जिन वेबसाइट पर ट्रैफिक कम है उनके लिए ये उत्तम विकल्प है!
  2. shared web hosting का इस्तेमाल करना अत्यंत आसान है 
  3. इसकी cost कम होती है, जिसके कारण कम बजट में भी वेबसाइट बनायीं जा सकती है!
Shared hosting के नुकसान  
  1. किसी वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ने से वेबसाइट क्रैश भी हो सकती है!
  2. वेबसाइट शेयर्ड होस्टिंग पे होने के कारण स्पीड कम ज्यादा भी हो सकती है!
  3. इसमें सिक्योरिटी का issue भी बना रहता है 

Virtual private server (VPS) hosting kya hota hai in Hindi?

Virtual private server (VPS) hosting एक प्रकार की virtualization technology  पर काम करता है, virtual  टेक्नोलॉजी से मतलब एक हार्डवेयर को सॉफ्टवेयर की मदद से अलग अलग पार्ट में विभाजित करता है, इसी टेक्नोलॉजी की मदद से ही एक powerful एवं secure सर्वर को मल्टीप्ल सर्वर में डिवाइड किया जाता है, उस बनाये गए सर्वर को एक यूजर को दिया जाता है, जिसमे वह यूजर अपनी एक या एक से अधिक वेबसाइट को होस्ट कर सकता है! इसमें होस्टिंग कम्पनी किसी अन्य वेबसाइट ओनर की वेबसाइट को होस्ट नहीं कर सकती है!

सरल भाषा में समझे तो किसी एक बिल्डिंग के एक फ्लोर को एक व्यक्ति को रेंट पे दे दिया है, जिसमे उसकी अनुमति के बिना कोई और प्रवेश नहीं कर सकता! 

VPS hosting किसके लिए उपयोगी है 

VPS hosting कोई भी use कर सकता है, लेकिन जिसकी वेबसाइट पर ट्रैफिक कम है लेकिन Ecommerce  वेबसाइट है, तो स्पीड अच्छी करने के लिए आप VPS  होस्टिंग को यूज़  कर सकते है, स्पीड को लेकर VPS एक अच्छा विकल्प हो सकता है! 

VPS hosting से लाभ
  1. इसमें private Server होने के कारण आपको अच्छा performance मिलता है!
  2. इसमें वेबसाइट की ट्रैफिक लिमिट अछि होती है!
  3. Private server होने से privacy और security बढ़ जाती है!
VPS Hosting के नुकसान
  1. इसमें आपको थोड़ा बहुत technical Knowledge होना आवश्यक होता है!

Dedicated server hosting kya hota hai in Hindi?

Dedicated Server एक ऐसी होस्टिंग सर्विस है, जिसमें server का पूरा control आपके पास होता है, इसमें आपके जितना भी traffic हो हैंडल करने की शमता होती है, जिससे आपकी वेबसाइट को कभी भी ब्रेकडाउन होने की टेंशन नहीं रहती है, और आप आपके यूजर एक्सप्रिएंस को सुधार सकते है!

इस server से आपकी वेबसाइट की परफॉरमेंस को अन्य वेब होस्टिंग की तुलना में बहुत अच्छा बना देता है 

Dedicated server को साधारण शब्दों में समझे तो ये एक बँगले की तरह है, जो सभी सुख सुविधा से परिपूर्ण है, जिसको आपने किराये से लिया है और उस पर आपका पूरा अधिकार है! 

Dedicated hosting किसके लिए अधिक उपयोगी है!

Dedicated hosting उस वेबसाइट के लिए सबसे अधिक कारगर है जिसका ट्रैफिक लाखो-करोडो में है, अगर आपकी ecommerce (शॉपिंग) वेबसाइट है तो आपको डेडिकेटेड होस्टिंग का उपयोग करना चाहिए  

Dedicated hosting से लाभ
  1. इसमें वेबसाइट owner को पूरा कंट्रोल मिलता है, जिससे इसके feature को अपग्रेड कर सकते है!
  2. security के हिसाब से ये होस्टिंग सबसे बेस्ट होती है!
  3. कितना भी ट्रैफिक आने पर आपकी वेबसाइट परफॉरमेंस डाउन नहीं होती है, और आपकी वेबसाइट speed फ़ास्ट होती है!
Dedicated Hosting के नुकसान
  1. Dedicated Server hosting को सञ्चालन के लिए आपको टेक्निकल व्यक्ति की आवश्यकता होती है! 
  2. इसमें आपको एक कम्पलीट सर्वर मिलता है, जिसका पूरा कण्ट्रोल आपके पास होता है, इसलिए यह महंगी होती है!

Cloud Hosting kya hota hai in Hindi?

क्लाउड होस्टिंग एक ऐसी होस्टिंग है, जिसमे कई सारे सर्वर मिलकर काम करते है, और आपकी वेबसाइट कई सारे सर्वर पर होस्ट होती है, अगर एक सर्वर down होता है, तो दूसरा सर्वर उसकी जगह ले लेता है! 

cloud hosting क्या है इसको आसान भाषा में समझे तो आपकी ecommerce वेबसाइट है, और आपके स्टोर अलग अलग सिटी में है, तो आपको कोई भी प्रोडक्ट भेजने में आपकी कॉस्ट बचेगी, सामान Customer तक जल्दी पहुँच जायेगा! 

उसी तरह जब आपकी वेबसाइट कई सारे सर्वर पर होगी तो आपका यूजर किसी भी लोकेशन से आपकी वेबसाइट पे आता है, तो जो सर्वर उस user के लोकेशन से पास होता है, वहा से उस यूजर के लिए  वो सर्वर काम करता है, उस वजह से आपकी वेबसाइट स्पीड भी बढ़ जाती है! जिससे यूजर experience बढ़ता है, और आपकी रैंकिंग भी improve होती है!

Cloud Hosting किसे यूज़ करना चाहिए

जिस वेबसाइट का ट्रैफिक अच्छा है, और उस वेबसाइट के यूजर पूरी दुनिया से आते है, और जिसे अपनी वेबसाइट की सिक्योरिटी बढ़ानी है, वेबसाइट की परफॉरमेंस को इम्प्रूव करना चाहता है उसके लिए क्लॉउड होस्टिंग एक अच्छा विकल्प है

बड़ी बड़ी कम्पनी जैसे Amazon, Flipkart जैसी websites इसी होस्टिंग का इस्तेमाल करते है! 

Cloud hosting से लाभ
  1. इसमें आपकी वेबसाइट को अच्छी स्पीड मिलती है!
  2. सर्वर अलग अलग होने से लोड भी बट जाता है!
  3. इसमें better सिक्योरिटी मिलती है, जिससे आपकी वेबसाइट के hack होने का खतरा बहुत कम हो जाता है!
  4. इसमें आप आपके हिसाब से रिसोर्सेज को बढ़ा सकते है!
Cloud hosting से नुकसान
  1. क्लाउड होस्टिंग महंगी होती है!

Managed hosting kya hai in Hindi?

Managed  होस्टिंग वह होस्टिंग है,  जिसमे dedicated और cloud  होस्टिंग को hosting कंपनी ही उसके सर्वर और उसके सेटअप एंड management, और support system  को संभालती है। साथ ही उसके protection का ध्यान रखती है|  

जैसा की हम पहले समझ चुके है की dedicated और cloud सर्वर को हैंडल करने के लिए टेक्निकल पर्सन की जरुरत होती है! लेकिन managed hosting आपका  काम आसान कर देती है, 

किसे यूज़ करना चाहिए – Managed hosting

यह hosting डेडिकेटेड और क्लाउड होस्टिंग को बहुत आसान कर देती है, जैसा की हम समझ चुके है की डेडिकेटेड और क्लाउड होस्टिंग स्पीड और परफॉरमेंस के लिए अच्छी होती है,और जो वेबसाइट वर्डप्रेस पर बनी है,और साथ ही जिन्हे technical अनुभव कम है, उनके लिए ये होस्टिंग बहुत फायदेमंद है!

Managed hosting से लाभ
  1. ये होस्टिंग फ़ास्ट होती है!
  2. इस होस्टिंग में अच्छी परफॉरमेंस मिलती है!
Managed hosting से नुकसान
  1. यह होस्टिंग थोड़ी महंगी होती है!

Colocation hosting kya hai in Hindi?

यह होस्टिंग वह होस्टिंग सर्विस है जिसमें आईटी (IT) कंपनी किसी के पर्सनल सर्वर को एक जगह देती है, और उसे मैनेज करती है, एक सर्वर को मैनेज करने में बहुत सी दिक्कत होती है जैसे सर्वर को ठंडा रखना और 24*7 इलेक्ट्रिसिटी प्रोवाइड करना होता है!

Colocation hosting किसके लिए अधिक उपयोगी है!

यह hosting ऐसी कंपनी इस्तेमाल करती है, जिन्हे सिक्योरिटी एवं privacy की ज्यादा जरुरत होती है, जैसे बैंकिंग सेक्टर जो अपने कस्टमर का डाटा  और उनके ट्रांजेक्शन्स को सेफ रखना जरुरी होता है! इन सेक्टर्स के लिए Colocation hosting  अत्यंत जरुरी अवं उपयोगी है!

Colocation hosting से लाभ
  1. इसमें better सिक्योरिटी मिलती है, जिससे आपकी वेबसाइट के hack होने का खतरा बहुत कम हो जाता है!
  2. ये होस्टिंग फ़ास्ट होती है!
Colocation hosting से नुकसान
  1. यह होस्टिंग थोड़ी महंगी होती है!

वेब होस्टिंग खरीदने से पहले ध्यान रखने योग्य बातें

पुरे विश्व में हजारो वेब होस्टिंग कंपनी है, जो अच्छी से अच्छी होस्टिंग सर्विस प्रोवाइड करने की पूरी कोशिश करती है, लेकिन इनको चुनना  एक बहुत समझदारी का काम  होता है, हम यही सोचते है की कोनसी कम्पनी हमारे लिए  अच्छी है और कोन सी बुरी! लेकिन होस्टिंग खरीदने से पहले कुछ बाते ध्यान देना जरुरी है! क्युकी ये हमारी वेबसाइट की नीव होती है!

अब तक आप समझ गए होंगे की Web Hosting Kya hai? और ये कैसे काम करता है? तो चलिए अब ये भी समझ लेते है की सही होस्टिंग कम्पनी कैसे चुने!

  1. Bandwidth
  2. Diskspace 
  3. Uptime
  4. Support
  5. Customer service
  6. Price 

Bandwidth Kya hai in hindi?

बैंडविड्थ से तात्पर्य है! कम से कम समय में ज्यादा से ज्यादा data transfer होना!

जब भी कोई यूजर आपकी वेबसाइट का वेबपेज ओपन करता है तो वेब ब्राउज़र हमारी होस्टिंग सर्विस को एक Request भेजता है, और यूजर द्वारा सर्च की गयी फाइल को ढूंढ कर सर्च इंजन तक पहुँचता है!

इसी फाइल ट्रांसफर को bandwidth कहते है, जितना अच्छा बैंडविड्थ होगा उतना अच्छा response time होगा, उतना जल्दी आपके यूजर को सर्च की गयी इनफार्मेशन मिलेगी!

Hosting Disk Space Kya hai in hindi?

जब भी आप होस्टिंग purchase करते है तो आपको disk space एवं स्टोरेज जरूर चेक करना चाहिए, क्युकी आपके वेबसाइट की सभी फाइल के लिए एक अच्छा स्टोरेज होना बहुत जरुरी है! होस्टिंग स्टोरेज जरूर चेक करे ये वेबसाइट के लिए एक बहुत important फेक्टर है!

Hosting Uptime Kya hai in Hindi?

हर कोई चाहता है की हमारी वेबसाइट भी डाउन न हो ये तभी हो पायेगा जब आपकी वेब होस्टिंग का uptime अच्छा होगा!

अपटाइम का सीधा मतलब है 24*7 ऑनलाइन एवं available होना! बहुत सारी कंपनी दावा करती है, की उनका uptime 99.95% है, लेकिन आप इसपर जरूर ध्यान दे! 

Hosting Support Kya hai in hindi?

किसी भी वेब होस्टिंग को परचेस करते वक़्त ये जरूर ध्यान दे की उसका सपोर्ट सिस्टम अच्छा हो! क्युकी होस्टिंग लेना तो बहुत इजी होता है, लेकिन उसके बाद आपको सपोर्ट जरूर चाहिए होता है, क्युकी होस्टिंग सर्विस में कभी भी कोई error हो सकता है,और वो आपको पूरा सपोर्ट देते है या नहीं, support आपके लिए सबसे जरुरी है! 

Hosting Customer service

जब भी वेब होस्टिंग खरीदते है, तो आपको उसकी customer service के बारे में जरूर रिसर्च करे! साथ ही आपके comfortable language में customer service उपलब्ध है, या नहीं इस पर जरूर ध्यान दे! क्युकी होस्टिंग में कुछ technical असुविधा होने पर आपको उसका सोल्युशन मिलता है या नहीं, इसे अनदेखा नहीं किया जाना चाहिए!

Price 

होस्टिंग लेते वक्त सभी टेक्निकल चीजों को हमने समझा, लेकिन अब बात आती है उसकी Price हमारे pocket friendly है या नहीं! लेकिन येभी जरुरी है की आप कुछ अच्छा शुरू करने जा रहे है, तो आपको ये सारी चीजे अच्छी price में मिल रही है या नहीं, कम price के चक्कर में आप इन सारी बातो को भूले नहीं!

क्या वेब होस्टिंग को भी रिन्यू कराया जाता है?

web hosting एक प्रकार की रेंटल सर्विस है, इसलिए आपको इसे renew करना पड़ता है ताकि आप इस सर्विस का और वेबसाइट को ऑनलाइन रख सके, और आप जिस भी वेबसाइट पे ट्रैफिक लेते है, वो continue बना रहे, इसीलिए वेब होस्टिंग की सुविधा को जारी रखने के लिए आपको हर साल renew करना होता है!

आप क्या समझे?

Congratulations, आपको Praveen ratlami ने इस ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से समझाने की कोशिश की है, web hosting kya hai? वेबसाइट के लिए होस्टिंग क्यों जरूरी है? एवं होस्टिंग कितने प्रकार की होती है!

Leave a Reply

Your email address will not be published.